Up मे 24 घंटे में अपराध का बवंडर, पत्रकार और फाइनेंसर की हत्या, इटावा में मिले 2 शव, प्रियंका ने उठाए सवाल

0
196

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पत्रकारों की हत्या को लेकर योगी सरकार को घेरा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि तीन महीनों में तीन पत्रकारों की हत्या हो चुकी है। उन्होंने आगे ट्वीट कर कहा, “19 जून – श्री शुभममणि त्रिपाठी की हत्या, 20 जुलाई – श्री विक्रम जोशी की हत्या, 24 अगस्त- श्री रतन सिंह की हत्या, बलिया पिछले 3 महीनों में 3 पत्रकारों की हत्या। 11 पत्रकारों पर खबर लिखने के चलते एफआईआर हो चुकी है। यूपी सरकार का पत्रकारों की सुरक्षा और स्वतंत्रता को लेकर ये रवैया निंदनीय है।”

बता दें कि उत्तर प्रदेश के बलिया में सोमवार देर शाम एक निजी चैनल के पत्रकार रतन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने बदमाशों को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन वो भाग निकले। घटना के बाद पहुंचे एसपी देवेंद्र नाथ, समेत कई अधिकारी तहकीकात में रात भर जुटे रहे। इस मामले में अभी तक 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी पत्रकार के परिजन को 10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है।

खबरों के मुताबिक, पत्रकार रतन सिंह सोमवार शाम को गांव में ही किसी के यहां बैठने के बाद पैदल ही वापस घर जा रहे थे, तभी कुछ लोगों ने उनपर फायरिंग कर दिया। ग्रामीणों के अनुसार जान बचाने के लिए रतन ग्राम प्रधान में घर में घुस गए लेकिन हमलावरों ने पीछा नहीं छोड़ा और एक-एक कर तीन गोलियां दाग दी। इससे रतन की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

इससे पहले प्रियंकां गांधी ने मंगलवार की सुबह में यूपी में बढ़ते अपराध को लेकर प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर सीधे तौर पर हमला बोला। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि यूपी के सीएम सरकार की स्पीड बताते हैं और अपराध का मीटर उससे दोगुनी स्पीड से भागने लगता है। प्रत्यक्षम् किम् प्रमाणम्, ये यूपी में केवल दो दिनों का अपराध का मीटर है। यूपी सरकार बार-बार अपराध की घटनाओं पर पर्दा डालती है, मगर अपराध चिंघाड़ते हुए प्रदेश की सड़कों पर तांडव कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here