शिक्षिका हत्याकांड: पति ने खुलासे पर उठाया सवाल, आरोप लूट के लिए नहीं सुपारी देकर कराई गई हत्या

0
170

शिक्षिका डेविना मेजर हत्याकांड और उनकी बेटी को गोली मारने की घटना के खुलासे से डेविना के पति मनीष मेजर संतुष्ट नहीं हैं। उनका कहना है कि लूट तो एक बहाना है। सुपारी देकर डेविना की हत्या कराई गई है। उनका आरोप है कि सुपारी देने वालों को पुलिस बचा रही है। मनीष ने कहा कि पकड़े गए बदमाशों को डेविना को मारना था इसलिए चेन लूट का माहौल बनाया। अगर सिर्फ लूट के लिए घटना होती तो चार गोली नहीं मारी जाती।

मनीष का कहना है कि लुटेरे मोबाइल और पर्स में रखा दस हजार रुपये तथा चेन छोड़ कर नहीं जाते। उनका आरोप है कि घटना के दिन शाहपुर थानेदार सुधीर सिंह का कहना था कि सोने की चेन, पर्स और मोबाइल उनके पास है लेकिन पर्दाफाश के दिन वह कह रहे है कि चेन का छोटा टुकड़ा ही घटना के बाद मिला था।

आधे हिस्से को लुटेरों ने 22,000 रुपये में किसी ज्वेलर के यहां बेच दिया था। मनीष मेजर का कहना है उन्हें व उनके भाई तथा बच्चों को जानमाल का खतरा है। उधर, पुलिस अफसरों का कहना है कि किसी भी निर्दोष को जेल नहीं भेज सकते हैं। शिक्षिका हत्याकांड में आरोपितों को पकड़ा गया सीसी टीवी फुटेज में उनकी पहचान हुई और उन्होंने जुर्म कबूल किया।

लूट और हत्या के आरोपित गए जेल
आरोपित त्रिभुवन सिंह, दीपक कुमार निभानी व लूट की चेन खरीदने वाले सोनार अमर जायसवाल तथा शरणदाता अकबरूद्दीन को पुलिस ने रविवार को कोर्ट में पेश कर जेल भेजवा दिया। उनकी कोरोना जांच कराई गई उसके बाद अस्थायी जेल में रखा गया है। शाहपुर इलाके में 20 सितंबर की दोपहर कुशीनगर के सुकरौली के एक सरकारी स्कूल की प्रधानाध्यापिका डेविना मेजर की बाइक सवार दो बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस घटना में डेविना की बेटी घायल हो गई थी। पति मनीष ने ज्ञानू सहित अन्य अज्ञात पर केस दर्ज कराया था। पुलिस ने इस मामले में चिलुआताल के काजीपुर निवासी शातिर अपराधी व दो साल से गैंगेस्टर एक्ट में निरुद्ध त्रिभुवन सिंह उर्फ पिंटू, विकास नगर बरगदवा निवासी दीपक निभानी, शरणदाता सिद्धार्थनगर व नेपाल निवासी अकबरूद्दीन तथा सोनार गोरखनाथ निवासी अमर जायसवाल को शनिवार को गिरफ्तार किया। घटना में प्रयुक्त बाइक, पिस्टल व तमंचा तथा लूटी गई चेन का आधा हिस्सा बरामद किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here