अंधविश्वास: पत्नी का सिर काट कर पति ने देवी को चढ़ाया

0
197

भोपाल: मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले में अंधविश्वास के चलते एक पति ने अपनी पत्नी की गर्दन काटकर देवी को चढ़ा दी। इस खौफनाक वारदात के बाद मौके पर पुलिस के आला अधिकारी पहुंचे और मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है।

बताया गया कि सिंगरौली जिले के बैढन थाना क्षेत्र में आने वाले बसौड़ा गांव के रहने वाले ब्रजेश केवट ने अपनी पत्नी बिट्टी केवट की गला काटकर हत्या कर दी और फरार हो गया। घटना की सूचना पाकर जिले के एसपी समेत वरिष्ट अधिकारी मौके पर पहुंचे, जहां अधिकारियों को सबसे पहला गवाह मृतक का बेटा मिला, जिसने पुलिस को बताया कि उसके पिता और मृतक मां के बीच बीती रात विवाद हुआ था।

बेटे की पहली जानकारी पाकर पुलिस ने मामले की तफ्तीश को आगे बढ़ाना शुरू किया।

पुलिस इस मामले में और विवेचना कर ही रही थी कि पुलिस के सामने घर और उसके आसपास के माहौल की गंभीरता भी खुल गई। मृतक के बेटे ने बताया था कि उसके पिता ने उसकी मां की हत्या की है। घटनास्थल पर मृतक का सिर धड़ से अलग मिट्टी के नीचे दबा था और धड़ के आसपास पूजन सामग्री यहां-वहां बिखरी पड़ी थी।

वरिष्ठ अधिकारियों को यह समझने में बिल्कुल देर नहीं लगी कि यह पूरी हत्या सिर्फ अंधविश्वास के चलते हुई। बताया यह भी जा रहा है कि कुल देवता को प्रसन्न करने के लिए इस परिवार सहित आसपास के इलाके में बेजुबान जानवरों की बलि देने की प्रथा वर्षों पुरानी है, लेकिन जब विशेष मन्नत मांगी जाती है तो नरबलि के बारे में यहां किदवंतया प्रचलित है और इन्हीं पर अंधविश्वास करते हुए बृजेश ने अपनी ही पत्नी का गला काटकर देवी को चढ़ा दिया।

इस जघन्य हत्याकांड का प्रत्यक्ष गवाह और कोई नहीं बल्कि उसका बेटा सुरेश बन गया। पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश कर रही है और लोगों को जागरूक कर रही है कि ऐसे अंधविश्वास से बचना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here