दुसरे मजहब के युवक से संबंध रखने पर बेटी को पिता ने उतारा मौत के घाट, सुनाई वारदात की कहानी।

0
241

राजकोट। गुजरात में राजकोट के गांधीग्राम क्षेत्र में ऑनर किलिंग से जुड़ा मामला सामने आया है। एक शख्स ने अपनी बेटी की हत्या कर दी। वारदात के पीछे की वजह बेटी का दूसरे मजहब के युवक से चल रहा अफेयर था। मना करने के बावजूद बेटी ने पिता की बात नहीं मानी। पिता ने आपा खो दिया और निर्मतता से खुद ही बेटी की हत्या कर दी।

प्रेम संबंध रखने पर कर दी हत्या

संवाददाता ने बताया कि, फिलहाल हत्यारोपी पिता सलाखों के पीछे कैद है। उसे अपने किए पर पछतावा हो रहा है। उसने खुद ही वारदात की कहानी पुलिस को सुनाई और रोने लगा। लॉकअप में उसने आंसू बहाए। पता चला है कि, जिस युवती की हत्या हुई, उसके एक मुस्लिम युवक से प्रेम संबंध थे।

हत्यारोपी की पहचान गोपालभाई नकुम के तौर पर हुई है।

बेटी को पिता ने घर पर ही मार डाला

गोपालभाई नकुम ने पूछताछ में कुबूला कि, ‘बेटी इला के प्रेम संबंध मुझे और अन्य परिवारवालों को मंजूर नहीं थे। विधर्मी होने के कारण हम संबंध से नाखुश थे। उसे कई बार समझाया था। गुरुवार को पिता-​पुत्री के बीच विवाद हुआ तो इला ने कहा कि, अब मैं इस घर का पानी तक नहीं पिउूंगी। जिससे हमें बहुत गुस्सा आ गया और हमने पास में पड़े कपड़े धोने के धोके से इला के सिर पर 4-5 वार कर दिए। वह बुरी तरह जख्मी हो गई। तड़पने लगी तो एंबुलेंस से अस्पताल भेजा गया। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।’

‘जो भी चाहा मैंने उसे लाकर दिया था’

हत्यारोपी ने कहा कि, ‘मुझसे मेरी बेटी ने जो भी मांगा, मैंने उसे लाकर दिया। मगर उसने जब दूसरे मजहब के लड़के के चक्कर में यह कहा कि मैं इस घर का पानी भी नहीं पीउूंगी, तो मैंने अपना आपा खो दिया था और इसी गुस्से में मुझसे अपराध हो गया।”
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, पिता ने कर्ज लेकर बेटी को एक्टिवा, एंड्रायड मोबाइल और अन्य सामान दिलवाए थे। वह 23 जुलाई को घर छोड़कर युवक के पास चली गई थी।

6 अगस्त को हुई वारदात

इला को लेकर बाद में दोनों मजहबों के लोगों के बीच 4 अगस्त को बातचीत हुई। जिसके बाद इला अपने घर लौट आई थी। बाद में 6 अगस्त को उसकी अपने ही पिता के हाथों ही हत्या हो गई। अब पिता सलाखों के पीछे कैद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here