Kharif Crops Showing report:- चालू खरीफ सीजन में धान का रकबा 12 फ़ीसदी बढ़ा, खरीफ बुवाई अब तक 9 फ़ीसदी ज्यादा

0
135

Kharif Crop Sowing Report: मानसून की सामान्य से अच्छी प्रगति से वर्तमान सत्र में अभी तक खरीफ (Kharif Crop) की फसलों की बुवाई का रकबा एक साल पहले इसी अवधि से नौ प्रतिशत बढ़कर 1,062.93 लाख हैक्टेयर हो गया है. कृषि मंत्रालय ने खरीफ फसलों (All India Crop Situation) की बुवाई की जानकारी साझा की है.

21 अगस्त की स्थिति के अनुसार कुल 1,062.93 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में खरीफ फसलों (Crop Wise Sowing Area) को बोया गया है, जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में यह रकबा 979.15 लाख हेक्टेयर था. एक सरकारी बयान में कहा गया है कि आज की तारीख तक खरीफ फसलों की बुवाई के रकबे में वृद्धि पर कोविड-19 का कोई दुष्प्रभाव नहीं है.

धान बुवाई का रकबा पिछले साल के मुकाबले बढ़कर 378.32 लाख हेक्टेयर
धान बुवाई (Paddy Crop) का रकबा पिछले साल के 338.65 लाख हेक्टेयर से 12 प्रतिशत बढ़कर 378.32 लाख हेक्टेयर पहुंच गया है. दलहन बुवाई का रकबा पिछले साल के 124.15 लाख हेक्टेयर के मुकाबले सात प्रतिशत बढ़कर 132.56 लाख हेक्टेयर हो गया है. मोटे अनाज का रकबा पहले के 166.80 लाख हेक्टेयर से बढ़कर 174.06 लाख हेक्टेयर ,तिलहन 167.53 लाख हेक्टेयर क्षेत्र से बढ़कर 191.14 लाख हेक्टेयर है. गन्ने की बुवाई का रकबा मामूली वृद्धि के साथ 52.19 लाख हेक्टेयर हो गया जो पिछले साल इस समय तक 51.62 लाख हेक्टेयर था.

अबतक 127.69 लाख हेक्टेयर में हुई कपास की बुवाई
कपास की बुवाई का रकबा 3.36 प्रतिशत बढ़कर 127.69 लाख हेक्टेयर हो गया जो 123.54 लाख हेक्टेयर था. जूट मेस्टा की बुवाई का रकबा भी अभी तक मामूली वृद्धि के साथ 6.97 लाख हेक्टेयर क्षेत्र हो गया जो साल भर पहले 6.86 लाख हेक्टेयर था. बयान में कहा गया है कि 20 अगस्त की स्थिति के अनुसार देश में 663 मिमी बारिश हुई है जो 628.3 मिमी की सामान्य बारिश के मुकाबले छह प्रतिशत अधिक है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here