इन 7 कारणों से फैल सकता है कोरोनावायरस का संक्रमण, डब्ल्यूएचओ ने कहा सावधान रहे सभी

0
300

नई दिल्ली. दुनियाभर में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation) ने एक बार फिर आगाह किया है कि अभी स्थिति और भी ज्यादा खराब हो सकती है. WHO ने कहा है कि जिस रफ्तार से कोरोना (Corona) मरीजों की संख्या बढ़ रही है वह डराने वाली है. बता दें कि भारत में पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड तोड़ 38,902 केस सामने आए हैं, जबकि इस दौरान 543 मरीज़ों की मौत हुई है.

बता दें कि डब्ल्यूएचओ ने ‘कोविड-19 वायरस संचरण के साधन: संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के लिए एहतियाती सिफारिशों के निहितार्थ’ शीर्षक से प्रकाशित अपनी रिपोर्ट में कुछ संशोधन किए हैं.इस नई रिपोर्ट में बताया गया है कि कोरोना वायरस का किन वजहों से तेजी से एक दूसरे तक पहुंच जाता है. डब्लूएचओ के मुताबिक अगर इन कारणों से बचा जाए तो कोरोना महामारी से भी बचा जा सकता है.

कोरोना महामारी से कौन से हैं कारण
>> कोरोना महामारी का संक्रमण किसी संक्रमित व्यक्ति से किसी दूसरे व्यक्ति के संपर्क में आने से तेजी से फैलता है. इससे बहुत जल्द कोई स्वस्थ्य व्यक्ति भी संक्रमित हो सकता है.>> किसी संक्रमित व्यक्ति के छींकने या खांसने से भी कोरोना वायरस दूसरे व्यक्ति तक जा सकता है. ऐसे में हर समय मुंह में कपड़ा या मास्क लगाकर रखें.
>> कोरोना संक्रमित व्यक्ति से भी दूसरे इंसान में कोरोना के संक्रमण का खतरा तेजी से बढ़ता है. ऐसे में सर्जरी के समय इस बात का विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती है.
>> संक्रमित मां से उसके बच्चे में संक्रमण की संभावना काफी ज्यादा होती है. ऐसे में डिलीवरी के दौरान डॉक्टरों को विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है.
>> कई बार कोरोना वायरस की चपेट में जानवर भी आ जाते हैं ऐसे में इन जानवरों के संपर्क में आने से भी कोरोना का खतरा बढ़ जाता है.
>> कोरोना से संक्रमित व्यक्ति अगर खुले में शौच करता है तो उससे भी कोरोना वायरस से संपर्क में आने की संभावना बढ़ जाती है.
>> कोरोना संक्रमित व्यक्ति के खांसने या छींकने पर हवा में पहुंचने वाली बूंदों के संचरण से भी संक्रमण फैल सकता है।
बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस के संक्रमण के नए मामलों ने लगातार दूसरे दिन रिकॉर्ड तोड़ा है. यह रिकॉर्ड शनिवार को एक बार फिर टूट गया. शनिवार को 24 घंटे में दुनिया में 2,59,848 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. शनिवार को सबसे ज्यादा मामले अमेरिका, ब्राजील, भारत और दक्षिण अफ्रीका से आए हैं. डब्ल्यूएचओ के अनुसार शुक्रवार को 2,37,743 नए मामले दर्ज किए गए थे. 10 मई के बाद एक दिन में कोरोना के संक्रमण से मरने वालों का भी रिकॉर्ड टूटा है. 17 जुलाई को कोरोना के संक्रमण से मरने वालों की संख्या 7,360 तक पहुंच गई. जुलाई में रोजाना कोरोना वायरस मरने वालों की संख्या 4,800 के करीब रही है. जून में रोजाना मरने वालों का औसत 4600 के करीब था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here