फल और सब्जियां शौक से खाने वाले हो जाए थोड़ा सावधान, हो सकता है नुकसान..

0
162

नई दिल्ली(नवोदय टाइम्स): आलू में रसायनों के प्रयोगों को लेकर लगातार बहस बढ़ती चली जा रही है, लेकिन इस पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो पा रही है। ऐसे में कई और चौंकाने वाले तथ्य सामने आ रहे हैं, जिनमें आलू के साथ ही लहसुन को सफेद पाउडर से चमकाने, अदरक को तेजाब से धोने, सेब व परवल को रंगने की भी खबरें सामने आने लगी हैं।यानि ये तय है कि जो सब्जी व फल आप खा रहे हैं वो आपके लीवर व किडनी को खराब करने के साथ ही कैंसर जैसी खतरनाक बीमारियों को जन्म दे रहे हैं। हालांकि इतने हंगामें के बाद भी राज्य सरकार व केंद्र सरकार का खाद्य विभाग चुस्ती से मंडियों से सैंपल क्यों नहीं उठा रहा है, ये एक बड़ा प्रश्न है।

एशिया की सबसे बड़ी मंडी आजादपुर में आने व किसानों के सब्जी व फल बेचने के बाद बिचौलियों या खरीदारों द्वारा इस खतरनाक रसायनों के खेल को खेला जा रहा है। सब्जियों को सुंदर दिखाने के लिए लहसुन पर भी सफेद पाउडर अब लगाया जाता है, ताकि वो सफेद और चमकदार दिखे। ऐसा लहसुन फायदे से अधिक नुकसान पहुंचा रहा है। यही नहीं, अदरक मंडी के बाहर तेजाब से धोई जा रही है ताकि चमक आ सके।

पहले भी मिलावटी आलू बंद हुए थे: अनिल मल्होत्रा
आजादपुर मंडी के चयनित सदस्य अनिल मल्होत्रा ने बताया कि मंडी में हल्द्वानी या पहाड़ी आलू सिर्फ 10 फीसदी आता है। पहाड़ी आलू बनाने की होड़ में उत्तर प्रदेश के संभल जिले में आलुओं पर रसायन का प्रयोग कर दिल्ली के बाजारों में बेचा जा रहा है। दो साल पहले संभल के आलुओं पर रोक लगाई गई थी लेकिन अब ये दोबारा बेचा जा रहा है। अब आजादपुर के आढ़तियों में नकली आलू को लेकर डर बैठ गया है और वो आलू नहीं खरीद रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here