लोकगायक देशराज पटेरिया का हार्ट अटैक से निधन, सीएम ने जताया दुख कहा- संगीत जगत ने एक सितारा खो दिया

0
229

भोपाल। बुंदेलखंड के मशहूर लोकगीत गायक देशराज पटेरिया का बीती रात हृदय गति रुकने से दुःखद निधन हो गया। वह 67 वर्ष के थे, उनका जन्म 25 जुलाई 1953 में छतरपुर के नौगांव कस्बे के पास तिटानी गांव में हुआ था।

वह पिछले चार दिनों से छतरपुर के मिशन अस्पताल में भर्ती थे। जानकारी के अनुसार बुधवार को देशराज पटेरिया को दिल का दौरा पड़ा था। जिसके बाद इलाज के लिए उन्हें चिकित्सकीय संरक्षण में रखा गया था। इलाज के दौरान शनिवार की सुबह 3.15 बजे उन्हे पुनः दिल का दौरा पड़ा और उनकी हृदय गति रुक गई।

लोक गायक देशराज पटेरिया के निधन की खबर पाकर सीएम शिवराज सिंह ने उनके निधन पर दुख व्यक्त किया है। सीएम ने ट्वीट कर लिखा ”अपनी अनूठी गायकी से बुंदेली लोकगीतों में नये प्राण फूंक देने वाले देशराज पटेरिया के रूप में आज संगीत जगत ने अपना एक सितारा खो दिया। वो किसान की लली… मगरे पर बोल रहा था…जैसे आपके सैकड़ों गीत संगीत की अमूल्य निधि हैं, आप हम सबकी स्मृतियों में सदैव बने रहेंगे।अपनी अनूठी गायकी से बुंदेली लोकगीतों में नये प्राण फूंक देने वाले श्री देशराज पटेरिया जी के रूप में आज संगीत जगत ने अपना एक सितारा खो दिया।

वो किसान की लली… मगरे पर बोल रहा था…जैसे आपके सैकड़ों गीत संगीत की अमूल्य निधि हैं। आप हम सबकी स्मृतियों में सदैव बने रहेंगे। ॐ शांति!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here