चीनी सेना ने अरुणाचल से अगवा किए पांच भारतीय युवक, कांग्रेस विधायक ने पीएम को दी जानकारी

0
227

नई दिल्‍ली: एक तरफ चीन भारत से शांति की अपील कर रहा है, वहीं उसकी सेना अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। अरुणाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक निनोंग एरिंग ने दावा किया है कि चीनी सेना ने सीमा पर अरुणाचल पांच युवकों का अपहरण कर लिया है। निनोंग एरिंग ने अपने ट्वीट में किडनैप किए गए युवकों के नाम भी लिखे हैं।

बताया जा रहा है कि ये युवक भारत-चीन सीमा के पास ही रहने वाले हैं, जिन्हें PLA के जवान जबरन अपने साथ ले गए हैं। एरिंग ने सरकार से इन युवकों को छुड़ाने की मांग की है। विधायक निनोंग एरिंग ने पीएम मोदी को ट्वीट कर इस बारे में जानकारी दी है।

कांग्रेस विधायक निनोंग एरिंग ने अपने ट्वीट में कहा, ‘हमारे राज्य अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सुबनसिरी जिले के पांच लोगों का कथित तौर पर चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने अपहरण कर लिया है।

कुछ महीने पहले भी इसी तरह की घटना हुई थी। एलपीए और सीसीपी को एक उचित उत्तर दिया जाना चाहिए।

इसके साथ ही निनोंग ने एक अन्‍य ट्वीट किया है, जिसमें उन्‍होंने लिखा, ‘दिबांग की सैटेलाइट इमेज से पता चलता है कि #CCPChina ऊपरी सियांग में बाइसिंग जैसी सड़कें बना रहा है। डिम्बेन में अंतिम आईटीबीपी पोस्ट से दिबांग घाटी में मैक मोहन लाइन की दूरी 100 किलोमीटर से अधिक है और इस सड़क के निर्माण में चीनी लोग फायदा उठा रहे हैं।”

अरुणाचल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, तागिन समुदाय से संबंधित पांच लोगों का नाचो के पास जंगल से उस समय अपहरण कर लिया गया जब वे शिकार कर रहे थे। इसकी जानकारी अपहृत व्यक्तियों में से एक के रिश्तेदार ने दी। जिन ग्रामीणों का कथित तौर पर अपहरण किया गया है उनके नाम हैं- टोच सिंगकम, प्रसाद रिंगलिंग, डोंगटू इबिया, तनु बेकर और नार्गु डिरी।

दो अन्य ग्रामीण जो अपहृत व्यक्तियों के साथ गए थे और किसी तरह भागने में कामयाब रहे उन्होंने लोगों को घटना के बारे में बताया। इस घटना से नाचो के ग्रामीण दहशत में हैं। पीड़ितों के परिजनों का कहना है कि वे शनिवार सुबह सेना के अधिकारियों के साथ चर्चा करने और घटना के बारे में पता लगाने के लिए नाचो रवाना होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here