Coronavirus: सावधान! कोरोना से ठीक हुए मरीजों में 90 दिन तक मौजूद रहता है वायरस..

0
86

कोरोना संक्रमण का प्रकोप पूरी दुनिया में जारी है। इसी बीच इस वायरस से जुड़ी एक हैरान करने वाली जानकारी सामने आई है। अमेरिका में कई अस्पतालों के क्लिनिकल डाटा के विश्लेषण बताते हैं कि कोविड-19 बीमारी के लिए जिम्मेदार वायरस SARS CoV-2 बेहद गंभीर अवस्था के बाद ठीक हुए मरीजों में 90 दिनों तक मौजूद रहता है।

ऐसे में कई बार अगर आप कोरोना से हाल में ठीक हुए लोगों के साथ घूमते-फिरते हैं या समय व्यतीत करते हैं तो जरूरी है कि आप भी सावधानी बरतें।

बहरहाल, वायरस को लेकर आए इस नए विश्लेषण से ये आशंका है कि कोरोना से ठीक हुए लोग भी इस बीमारी को फैला सकते हैं। बता दें कि भारत में कोरोना संक्रमण के मामले 64 लाख के पार हो गए हैं।

वहीं एक लाख से अधिक लोगों की मौत इस बीमारी से भारत में हो चुकी है।

अमेरिका के एटलांटा में सेंटर फॉर डिजिज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के द्वारा जुटाए गए डाटा के अनुसार बीमारी के दौरान सबसे ज्यादा गंभीर अवस्था से गुजरे लोग करीब 90 दिनों तक संक्रमण फैलाने की क्षमता रखते हैं। वहीं बहुत कम देर के लिए बीमार पड़े मरीज में ऐसी क्षमता केवल 10 दिनों तक रहती है। साथ ही ऐसे मरीज जिनकी इम्यूनिटी कुछ कमजोर है, संक्रमित होने के समय थो़ड़े बहुत लक्षण ही जिनमें नजर आए, वे ठीक होने के करीब 20 दिनों बाद तक संक्रमण फैला सकते हैं।

इस रिसर्च में साथ ही ये भी कहा गया है कि अगर 90 दिनों के बाद ठीक हुए मरीजों के संपर्क में आया कोई शख्स बीमार होता है तो वह कोविड-19 नहीं हो सकता। केयर अस्पताल के एक विशेषज्ञ डॉक्टर मुस्तफा अफजल के अनुसार, ‘ऐसे विश्लेषण से आईसोलेशन प्रक्रिया को समझने में मदद मिलती है।’

ये विश्लेषण भारत के लिहाज से भी बेहद महत्वपूर्ण है जहां लगातार मामले बढ़ रहे हैं। साथ ही कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में भी तेजी से वृद्धि हो रही है। भारत में लोगों में कोरोना को लेकर लापरवाही भी बढ़ रही है। कई लोग अब बिना मास्क के बाहर घूमते नजर आते हैं।

गौरतलब है कि देश में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 64,73,544 हो गई है। वहीं, 54 लाख से अधिक लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। देश में संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर बढ़कर 83.84 प्रतिशत हो गई है। अब तक भारत में कोरोना से 1,00,842 लोगों की मौत हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here