छत्तीसगढ़ में हीरा तस्करी का सबसे बड़ा मामला सामने आया, 171 नग हीरे बरामद…

0
182

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के गरियाबंद जिले के उड़ीसा सीमा से लगे क्षेत्र में बेशकीमती कोरंडम का अवैध उत्खनन  हो रहा है. यहां अन्य प्रदेश से हीरे और जवाहरात का व्यवसाय करने वाले व्यापारी तस्करों से संपर्क में रहते हैं. इस क्षेत्र में सबसे बड़ा हीरा तस्करी (Diamond smuggling) का मामला सामने आया है जिसमें 171 नग बेशकीमती हीरे जब्त किए गए हैं. देवभोग थाना क्षेत्र में हीरा तस्करी करने वाले एक आरोपी को मुखबिर की सूचना पर पुलिस अधीक्षक गरियाबंद की स्पेशल टीम ने धरदबोचा.

पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल ने जानकारी दी कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि मोटरसाइकिल क्रमांक सीजी 05 डब्लू 9467 पर एक व्यक्ति आ रहा है. उड़ीसा और छत्तीसगढ़ की सीमा पर मोटरसाइकिल सवार नूतन पटेल पिता श्यामसुंदर पटेल, निवासी गोंडा थाना सीना पाली जिला नवापाड़ा उड़ीसा की तलाशी लेने पर बेशकीमती 171 हीरे जब्त किए गए. प्रारंभिक जांच में पुलिस को नूतन पटेल ने बताया कि वह हीरों को बेचने के लिए ग्राहक की तलाश में देवभोग आया था. आरोपी नूतन पटेल पर माइनिंग एक्ट धारा 4 (21) के तहत कार्रवाई की गई है. उसे न्यायालय में प्रस्तुत करने की तैयारी की जा रही है।

छत्तीसगढ़ और उड़ीसा की सीमा रेखा पर बसा देवभोग थाना क्षेत्र अपने आप में एक अनूठा क्षेत्र हो गया है. इस क्षेत्र में लगातार अवैध शराब परिवहन, जंगली जानवरों की खाल और बेशकीमती पैंगोलिन जैसे जीवों की तस्करी के मामले सामने आ रहे हैं. इसे लेकर पुलिस लॉकडाउन की अवधि में लगातार एक्टिव रही है जिसके कारण आरोपियों  की धरपकड़ भी तेजी से हुई. लॉकडाउन का फायदा उठाकर शायद आरोपी तस्करी के सामान को इधर से उधर करने की फिराक में हैं. लेकिन पुलिस ने सीमा रेखा पर लगातार चौकसी करके और जांच में तेजी लाकर आरोपियों  के पैर उखाड़ दिए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here