कोरोना संक्रमण से एक और नेता, नरेंद्र चंद्राकर की मौत..

0
129

रायपुर। कर्मचारी एवं श्रमिक नेता नरेंद्र सिंह चंद्राकर ने बीती रात को अंतिम सास ली, उन्हे विगत 12 दिनों से नारायण हॉस्पिटल रायपुर में गंभीर रूप से बीमार होने के कारण भर्ती किया गया था वे कोरोना से संक्रमित हो गये थे। शनिवार 12 सितंबर देर रात्रि इनका निधन हो गया, नरेंद्र सिंह चंद्राकर विगत 1980 से कर्मचारी संगठन से जुड़े हुए थे और विभिन्न पदों में रहे। इनकी गिनती बुद्धिजीवी में होती थी, पांच विषय में इन्होंने एमए किया था। गवर्नमेंट हाई स्कूल रायपुर में लंबे समय तक सहायक शिक्षक के रूप में इन्होंने कार्य किया। वर्तमान में अखिल भारतीय राज्य सरकारी कर्मचारी महासंघ दिल्ली के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष. छत्तीसगढ़ तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ कर्मचारी भवन बुढ़ापारा के संरक्षक के साथ संगठन से जुड़े कोटवार संघ, गौ सेवक संघ, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ, मितानिन संघ दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी संघ, संयुक्त शिक्षाकर्मी संघ सहित 36 संगठनों कर्मचारी संगठनों के संरक्षक थे। लंबे समय तक यह जिला शाखा रायपुर एवं छत्तीसगढ़ तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ रायपुर के प्रांतीय अध्यक्ष रहे। प्रांतीय प्रवक्ता अखिल छत्तीसगढ़ राज्य कर्मचारी के प्रवक्ता अनिल श्रीवास्तव,चंद्रशेखर तिवारी, कर्मचारी नेता विजय झा अजय तिवारी इदरीश खान आदि ने श्रद्धाजंलि अर्पि्त करते हुए कहा कि नरेंद्र सिंह चंद्राकर का निधन छत्तीसगढ़ के कर्मचारियों एवं श्रमिकों के लिए अपूरणीय क्षति है। छत्तीसगढ़ अलग राज्य बनाने हेतु चलाए गए आंदोलन में इनके द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here